Google+ Followers

Saturday, June 28, 2014

पैसा खींचो, Money Magnet, Attract Money, Affirmation For Money Hindi





Law of Attraction Applied to Money. Hindi Affirmations to attract Money.

ये विडियो आपके जीवन को खुशहाल बना सकता है

Thursday, June 26, 2014

Self Confidence (आत्म विश्वास)

आत्म-विश्वास का मतलब है – अपने ऊपर विश्वास करना l आत्म-विश्वास हमारी सफलता की कुंजी है, हमारे जीवन की सबसे पहली सीढ़ी है l आज के समय में अगर हमें कुछ पाना है, किसी भी क्षेत्र में कुछ कर के दिखाना है, जीवन खुशी से जीना है, तो इन सबके लिए आत्म-विश्वास का होना बहुत ज़रुरी है l आत्म-विश्वास से हमें ऐसी शक्ति मिलती है जिससे हम कुछ भी बहुत आसानी से कर सकते हैं l आत्म-विश्वास से हमारी संकल्प शक्ति को बल मिलता है l हमारी संकल्प-शक्ति से हमारी आत्मिक-शक्ति बढ़ती है और आत्मिक शक्ति से हमारे सभी कार्य संभव होते हैं l
confidence
Develop Self –Confidence
दोस्तों आज हम “Confidence” के बारें में बात करेंगे.
Self-confidence कैसे बढाया जाएँ? अपने अन्दर विश्वास कैसे जागृत किया जाएँ कि हम कर सकते है I कैसे अपनी जीवन की सफलता को हासिल किया जाएँ जो मंजिल अभी हम पाना चाहते है I उसके लिए एक सबसे जरुरी चीज़ है कि अपनी शक्तियों को, अपनी ताकत को पहचानना है I अपने confidence को बढ़ाने के लिए अपनी ताकत को पहचानना बहुत जरुरी है I अपना SWOT-Analysis किया जाएँ I इसका मतलब है कि अपनी ताकत लिखी जाएँ कि मेरी ताकत क्या है ? मेरे अन्दर प्लस क्या है? मेरे अन्दर सबसे अच्छी क्वालिटी क्या है ? परमात्मा ने हमें क्या Extra दिया है ? उनकी एक लिस्ट बना कर रखें और सदा उसका चिंतन हमारे अन्दर चलता रहें कि Yes, This is the best capability i have…!!!! मैं अच्छा बोल सकता हूँ, मैं अच्छा Present कर सकता हूँ, मेरी स्मरण शक्ति बहुत फ़ास्ट है I मेरी Concentration Power बहुत ज्यादा है I इस प्रकार से कोई भी positive चीज़ जो हमारे अन्दर है उसको हमने repeat करना है, उसको हमने ध्यान में रखना है कि Yes, That is the capability I have & At the Same time अपनी जो कमिया है उसको भी overcome करने के लिए हमें अपनी पूरी तैयारी रखनी है I और हमें opportunity को भी पहचानना है, इस मौके को भी पहचानना है कि ये chance है जिसमे मुझे सफल हो कर दिखाना है I और कोई अगर threat है तो उसको पार करने के लिए मुझे अपने अन्दर संघर्ष की ताकत पैदा करनी है I जीवन में एक आदर्श चुनना बहुत जरुरी है I जिससे भी हमारा जीवन प्रभावित हो सकता है I और देखिए कि उसने जीवन में कितना संघर्ष किया I खासतोर पर वो आदर्श आपके father हो सकते है , आपके कोई और dost हो सकते है, कोई भी ऐसा इंसान जिसने जीवन में सफलता की सीढियों को चढ़ा हो ,सफलता को पाया हो और अपने वो चीज़ देखी हो या कम से कम पढ़ी हो उसके बारे में I ऐसा कोई भी उदाहरण आप जीवन में रख सकते है और बार-बार उनके बारे में पढ़ कर एक अपने आप को positive बना सकते है I एक बुक आप जरुर लीजिए, की भी बुक जो आपको positivity दे सकें I अपने आप को positivity देने वाली बहुत सारी बुक्स मिलती है. 

List of Books Hindi and English:  http://www.mindpowerindia.org/motivationbooks

जब भी मन negativity में जाएँ अपने आप को फिर से positive करके हमें अपने आप को उस संघर्ष के लिए तैयार कर लेना है I

http://mindpowerindia.org/mindpowercd

देखिए ! सबसे ज्यादा डर हमारे मन को किस बात से लगता है I हमारा मन कई बार डरता है, असफलता का हमारे अंदर डर होता है I और भी बीमारियों का डर होता है, किसी मित्र के दूर हो जाने का डर होता है I मौत का डर होता है I पैसे की कमी का डर होता है I ऐसे बहुत सारे डर हमारे मन में चलते रहते है I और संसार क्या कहेगा ? इस बात का बड़ा डर होता है I इस डर से कैसे छुटकारा पाया जाएँ ? एक चीज़ पहले ये समझिये कि ये जो डर है आपको एक power दे रहा है I डर का मतलब ये है कि हमारा मन तैयारी कर रहा है उस संघर्ष को जीतने के लिए और उस संघर्ष को पार करने के लिए हमारा मन तैयारी कर रहा है I क्योंकि आप देखिए ! कभी अगर अपने ये situation देखी हो कि जैसे मान लीजिए चलते-चलते रास्ते में आपको लग रहा है कि सांप है I एक दम से शरीर के रोंगटे खड़े हो जाते है, पैर एक दम हरकत में आ जाते है, दिल तेज़ी से धड़कने लगता है और brain जो है तेज़ी से काम करने लगता है कि क्या किया जाएँ अब ? तो जैसे मन उस समय में तैयारी करता है वो तैयारी हमें power देती है उस संघर्ष से लड़ने की I इसी प्रकार अगर हमारे मन में डर किसी चीज़ का आ रहा है तो इसका मतलब हमारा मन उस संघर्ष से निपटने की तैयारी कर रहा है I ये संघर्ष कोई भी चीज़ का हो सकता है ये बिज़नस में सफलता पाने के लिए हो सकता है, Exam में सफलता पाने के लिए हो सकता है, interview के लिए हो सकता है I मन किसी भी संघर्ष से निपटने के लिए तैयार हो रहा है तो इस डर पर कैसे विजय हासिल की जाएँ ? ये negative thought जब आतें है तो उस वक़्त अपने आप को कैसे positive किया जाएँ ? 
देखिए दोस्तों जैसा पहले भी कहा कि एक बुक जरुर रखिये, कोई ऐसी बुक जो आपको positivity दिला सकें I जो आपको याद दिला सकें कि आप संघर्ष कर रहे है और उन्होंने भी संघर्ष किया है और लक्ष्य पाया है I दूसरी चीज़ जीवन में एक आदर्श जरुर रखिये I तीसरी चीज़ अपनी एक wining diary जरुर बनाये जो सफलताएँ हमने जीवन में पाई है पहले उसकी एक list बना के रखिये I क्या-क्या किया है और कौन-कौन से struggle में हम सफल हुए है I third grade में हो सकता है कि आप first आएं हो I तो 40 लोगो की टीम थी जिसमे आप ही first आएं है I इसका मतलब है कि आपके अन्दर वो capability है I आपने फला-फला Exam पास किया, अपने 8th standard में Science Competition में आपका नंबर 1 रैंक आया था I ऐसी कोई भी छोटी छोटी सफलताएँ पाई है वो उस समय के हिसाब से बहुत बड़ी चीज़ थी I उसकी एक list बनाए और सुबह-शाम उसको देखते रहिए, याद करते रहें कि मेरे अन्दर ये ताकत है I मैंने उस समय में भी असफ़लतायो को पार करके सफ़लता को पाया है और इस वक़्त भी मैं ये कर के दिखाउगा I “I will do it . . Have your faith again & again in your mind”. इस negativity को पार कर पाना ही हमारी सफलता है I बस मन में जो विचार चलते है इनको positive में convert करना ही हमारी सफलता है I 
आपको पता हो कि presentation देने से एक बार brack obama जैसे लोग भी जरुर घबराते है I वो घबराहट इसीलिए होती है, कहते है कि मुझे confidence देने के लिए I मेरे अन्दर confidence create होता है इसलिए मेरा मन घबराता है I घबराने का मतलब ये है कि मन तैयारी कर रहा है किसी struggle से जीतने की और मन अपनी internal powers को जगा रहा है कि Yes, you are ready for the struggle. इसलिए ये जो हृदय धड़क रहा है, पसीने-पसीने शरीर हो रहा है I Nothing Negative about it. have Full faith in yourself. Be Confident. इस dairy को जो wining dairy है इसको आप बार-बार देख लिया करें I बार-बार अपनी सफलतायों को याद करें और पूरी घटनायों के साथ याद करें कि उस समय में भी मैंने struggle किया था, उस समय में इतनी ख़राब हालत थी और मैंने जीत के दिखाया था I मन में फिर confidence आता है कि इस बार भी तुम कर पाओगे I This time too you will again do it. That confidence is required.  अपनी इस कमी को पूरा करने के लिए जो भय है उस भय को overcome करने के लिए वो सफलता याद करवाना बहुत जरुरी है I दूसरी चीज़ ये भी हो सकती है कि आपको आलोचना का डर हो कि लोग क्या कहेंगे? हमें हमेशा यही फ़िक्र लगी रहती है कि अगर फ़ैल हो गया तो लोग क्या कहेंगे? आप कभी भी confidence show करेंगे, कभी भी ऐसी कोई बात हो जाएगी, छोटी-मोटी failure हो जाएगी तो लोग हँसते है या लोग बुराइया करते है आपकी I अगर आपकी कोई बुराई कर रहा है और वो geniune है तो कोई बात ही नहीं है I तब तो कोई problem ही नहीं है न अगर geniune बुराई कर रहा है I इसका मतलब वो आपको आगे बढ़ने का मौका दे रहा है तो आपको उनको दूर करके आगे बढ़ जाईये I कबीर साहब जी ने कहा है आपको पता ही होगा शायद कि 
निन्दक नेरे राखियेआंगन कुटी छवाय, 
बिन पानी साबुन बिनानिरमल करै सुभाय” 
अगर आपको कोई genuine बुराई कर रहा है तो इसका मतलब है कि वो आपके लिए रास्ता साफ़ कर रहा है I आपकी प्रॉब्लम बता रहा है उसको overcome कीजिये और go ahead .!! और अगर आपकी in-genuine बुराई कर रहा है यानि सिर्फ इर्ष्या-पूर्वक ऐसा कह रहा है I बहुत बार ऐसा होता है कि वो इर्ष्या वश ऐसा बोलता है तो उसके लिए अपने मन को तैयार करना है I एक बड़ी सुन्दर कहावत है कि “मरे हुए कुत्ते को कोई लात थोड़ी मारता है” I यानि कि किसी कमजोर आदमी की कोई बुराई नहीं करता I वो बेचारा वैसे ही कमजोर है उसकी क्या बुराई करनी I आपकी बुराई जब भी होती है तो वो ये prove करती है कि आपके अन्दर दम है I वो बन्दा आपको competitor मान रहा है और ये मानता है कि आप उससे आगे निकल सकते हो I इसलिए वो आपकी बुराई कर रहा है इसका मतलब indirectly आपकी तारीफ़ ही की जा रही है कि वो आपको competitor मान रहा है I आप एक strong competitor हो I इसका मतलब सीधा सीधा है कि आपके अन्दर वो ताकत है कि आप कर के दिखा सकते हो I you have that powerAgain they should make more and more positive.  आपकी बुराई को positivity में बदलना है I 
और एक बीमारी का डर भी होता है कि कोई शरीर को बीमारी न लग जाएँ I last moment में कोई प्रॉब्लम न आ जाएँ I अगर हमारे अन्दर पूरा confidence है तो यकीं मानिये कोई बीमारी आपका बाल नहीं बाका कर सकती I अपने अन्दर confidence रखिये और अपनी आत्मा की ताकत पर भरोसा रखिये I This is the game I have to win..!! This is the exam I have to pass..!!! This is the interview I have to clear..!!! यही वो opportunity है मुझे कर के दिखाना है I generate an extra power, उस समय में शरीर भी साथ जरुर देगा क्योंकि मन ने जब किसी चीज़ को ठान लिया है तो शरीर को भी साथ देना ही पड़ेगा I मन जो है शरीर के कहने पर ही चलता है I 
जीवन में कुछ ऐसे उदहारण भी देखे जैसे आपने शायद stephan hawkins का नाम सुना होगा वो दुनिया के नंबर वन scientist है आज की date में I अगर आपको पता हो लगभग 30-35 साल पहले उनके शरीर को लकवा मार गया था I बिलकुल भी उनका शरीर गति नहीं कर पाता उसके बावजूद भी वो 30-35 से लगातार struggle कर रहें है I और जी कर दिखाया है, दुनिया के सामने एक approach रखी है कि मेरा जीवन मेरे हाथ में है I कोई बैठ कर तकदीरे लिखने वाला है या नहीं है मुझे नहीं पता लेकिन मैंने अपने जीवन में संगर्ष किया है ये उनका कहना है I बीमारियों पर उन्होंने काबू पा कर दिखाया है I 
इसी प्रकार से कई बार ऐसा होता है कि हमारे मन में डर होता है कि हमारे जो अपने लोग है वो हमारा साथ न छोड़ दे I कोई प्रिय जो है वो हमसे बिछुड़ न जाएँ ऐसा डर हमारे मन में बहुत होता है I ये confidence की हम बात कर रहें है I कई बार मन confidence की कमी में आ जाता है, आत्मविश्वाश में कमी आ जाती है I क्योंकि हमार मन ये मानता है कि हमारा कोई मित्र बिछुड़ न जाएँ I देखिए दोस्तों ! अगर सुचमुच ही किसी ने आपसे बिछुड़ना है, अगर कोई आपसे प्यार नहीं करता तो better है कि वो आज ही बिछुड़ जाएँ I अगर सुचमुच ही कोई बिछुड़ने लायक है वो अगर बिछुड़ ही जाएँ तो अच्छा है I और अगर वो प्यार करता है आपसे सच्चा प्यार तो कभी वैसे ही नहीं बिछुड़ सकता I छोटी उम्र में जो देखते है कई बार हमारे बच्चे लड़के-लडकिया सोचते है कि जो ये infatuation है इसी को प्यार का नाम दे देते है और परेशान रहते है एक दूसरे के पीछे कि हम छूट न जाएँ I दोस्तों सच्चा प्यार कभी भी छुट सकता ही नहीं है I छोटी उम्र में अपने ध्यान को अपने target की ओर लगायें I ये सारी चीज़े अपने आप मिल जाएगी I एक level पर जाकर सब कुछ मिल जाएगा I मन को जरा इन चीजों से ऊपर उठाए I 
अपनी निगाहे जो है अपने लक्ष्य की ओर रखिये और दिन प्रतिदिन अपने लक्ष्य को पाने का प्रयास कीजिये I teenagers के लिए हम कह रहे है कि आपको अपना ही नहीं पता तो प्यार जैसी चीज़ को आप क्या समझ सकते है इसलिए इस तुच्छ चीज़ से ऊपर उठिए और पहले जीवन की वो सफलता हासिल कीजिये I जीवन में capable बनिए उसके बाद ये सब चीज़े अपने आप मिल जाएगी I इसलिए और भी किसी मित्र के बिछुड़ने की टेंशन न ले जिसने बिछुड़ना है उसने बिछुड़ना है I जिसने मिलना है उसने मिलना है I और जो सचमुच प्यार करते है वो कभी बिछुड़ सकते ही नहीं I इस बात को अपने मन में रखिये और इस टेंशन से बाहर आ जाए I इसके अलावा पैसे की कमी की टेंशन होती है कि पैसा नहीं है ये तैयारी कैसे हो पायेगी I जीवन का संगर्ष पूरा कैसे हो पायेगा I 
दोस्तों बहुत सारे लोगो ने जीवन में जो सफलता पाई है वो छोटी से छोटी जॉब करके भी जीवन में सफलता पाई है I आज कल तो साधन बहुत हो गएँ है I बहुत सारी ऑनलाइन जॉब available है I बहुत सारी tuition करके भी लोग ने पढाया है I पेट्रोल पंप पर नाईट ड्यूटी भी कर लोग ने अपना गुज़ारा किया है I तो that all can be done , that all cab be available..!!  ये संगर्ष से कभी पीछे नहीं हटना है I धीरू भाई अम्बानी का केस हम लेते है कि उन्होंने पेट्रोल पंप पर ड्यूटी कर-कर के थोडा थोडा पैसा कमा कर आज वो अरबों के मालिक हुए है I तो मेरा कहने का मतलब केवल इतना है कि जो ये पैसा का struggle है वो तो सबकी लाइफ में शायद एक जैसा ही हो I और जो भी आपको opportunity मिली है उसक बार बार appreciate करना और ये मानना कि this is the right opportunity and this is the right time..!! मुझे जो भी मिला है वो परफेक्ट मिला है इसलिए अपनी सफलता को इन साधनों पर न छोड़ दें कि क्योंकि ये नहीं मिला तो मैं सफल नहो हो पाउगा I इस तरह की negativity को मन से निकल दें I so feed yourself again & again with positive thoughts that yes I will do it..Keep repeating, have a self talk!  अपने आप से बात करते रहें positively, very much positive self talk. बहुत सारे ऐसे ऑडियो castes available होते है इन्टनेट पर और youtube पर बहुत से ऐसे विडियो है जो अपने mind को positive program करने के लिए उपयोग किये जा सकते है I please do search for them.  

उसको हम सर्च करके अपनी लाइफ में add कर सकते है I उसको सुनते सुनते अपने अन्दर positive vibration दी जा सकती है I अपने अन्दर की hidden power को जगाना है I अपने brain के अंदर अपने, sub-conscious mind के अन्दर बहुत सारी ऐसे powers है जिसका हमने आज तक उपयोग किया ही नहीं है I उसके लिए कुछ messages होते है जो अपने sub-conscious mind को program करने में और उसकी powers को utilize करने में आप इस्तमाल कर सकते हो I उसके लिए हमने एक दूसरी विडियो में भी ज़िक्र किया है कि आप अपने आज्ञा-चक्र पर ध्यान लगा कर अपने आप को positive auto-suggestions दे सकते हो I उसके लिए आत्म सम्मोहन जिसे हम कहते है self-hypnosis I अपने ही आप को positive suggestions देते रहना I बार-बार feed देते रहना, अपने आप को सुन कर, लिख कर, बोल कर positive feed देते रहना yes I can do it, I can do it, so have that positivity always. दोस्तों जीवन का कोई struggle ऐसा नहीं है जिसको आप पार नहीं कर सकते I असफलता अगर मिलती भी है तो कोई बड़ी बात नहीं है I असफलता केवल ये बता रही है कि हमने struggle पूरा नहीं किया I छोटी मोटी असफलताओ को ignore करते हुए just look at the final aim, make success in your life you can definitely achieve it.
असफलता एक चुनौती है स्वीकार करो, क्या कमी रह गयी देखो और सुधार करो” I जब तक न सफल हो नींद चैन को त्यागो तुम, संगर्ष का मैदान मत भागो तुम बिना कुछ किये जय-जयकार नहीं होती, हिम्मत करने वालों की हार नहीं होती I
दोस्तों सचमुच हिम्मत करके दिखानी है और सफलता हासिल करनी है I “आंधियो को जिद्द है जहाँ बिजलियाँ गिराने की हमको भी ज़िद्द है वही आशिया बनाने की” I संगर्ष ही जीवन है, लगातार संगर्ष करते रहने से ही चेहरे पर मुस्कराहट आती है I बिना hard-work के कोई सफलता नहीं मिलती है I so believe in yourself, again & again remind yourself that you are the one capable of doing it.  सचमुच अगर हम अपने वेदवाक्यों में जाएँ तो अहम ब्रह्म अस्ति जैसे वेद वाक्य सुनने में आतें है I जिसमे हम ये कहते है कि मैं ब्रहम हूँ I I am the one who has created this entire thing. दोस्तों यकीं मानिये अपने अन्दर की power जगाने के लिए ये बहुत जरुरी है इसका मतलब ये है कि मेरे अन्दर पूरी ताकत है बस मुझे उसका पूरा इस्तमाल करना है I 
जब हम अपनी powers को याद करते है तो जैसे कहते है की हनुमान की powers को जगाने के लिए जाम्बवंत को बताना पड़ा कि आपके अन्दर अतुल्य बल है I you have so much of powers.  जब उनको याद दिलाया गया तो उन्होंने एक ही छलांग में इतना बड़ा समुन्द्र पार कर गएँ I  मुझे इस बात से कोई लेना देना नहीं है कि ये हुआ था या नहीं हुआ लेकिन ये लगता है हम सबके जीवन का part है I कई बार हम भी अपने आप को भूल जाते है हमे अपनी सफलता या powers को याद दिला दें तो हम भी फिर से सफलता के मार्ग पर चला सकते है I
********************Let’s Win This Struggle…………………..!!!!!*******

Wednesday, June 25, 2014

Power Of Silence ( मौन रहकर आत्मिक शक्ति बढ़ाएं)


मौन एक ऐसी शक्ति है जो हमें किसी भी बात को गहराई से समझने की और काम करने की ऊर्जा देती है l मौन से हमारा mind ज्यादा काम करने लगता है और हम ठीक समय पर सही निर्णय लेने में सक्षम होते हैं l यह हमारी आत्मिक शक्ति का मुख्य स्त्रोत है, जो आज कल के समय में हमारे लिए बहुत ही मुश्किल है l यह हमारे मन को शांत करता है l शांत रहने से हम अंदर से यानि दिल से सच्ची खुशी का महसूस करते हैं, जिसका अंदाज़ा हम खुद भी नहीं लगा सकते l इससे हमारी संकल्प शक्ति भी बढ़ती है l इसलिए जो लोग कम बोलते हैं, उनके द्वारा कही गई बातें जल्दी सच हो जाती हैं क्योंकि वे लोग सकारात्मक विचारों के होते हैं और उनका मन अंदर से बहुत शांत होता है l जब किसी परेशानी का हल असंभव सा दिखाई देता है तो कुछ देर चुप रहकर अकेले में बैठ कर उसे बड़ी आसानी से हल किया जा सकता है l चुप रहकर ही भगवान या परमात्मा से भी सीधी बात की जा सकती है l जीवन में खुश रहने के लिए चुप यानि शान्ति का विशेष महत्व होता है l
THE POWER OF SILENCE-COME NEAR YOURSELF(चुप रहना सीखें)
दोस्तों!आज हम मौन यानी silence के बारे में बात करते हैं!देखिये हम इतना ज्यादा बोलने के आदि हो चुके हैं habitual हो चुके हैं कि मानो हम मौन रहना भूल ही चुके हैं!बोलना हमें संसार से जोड़ता है,बोलना हमें society से जोड़ता है,हम औरों से जुड़ते हैं लेकिन चुप रहने से हम अपने आप से जुड़ते हैं!हम इस आपाधापी में इतना खो चुके हैं कि हम खुद को भूल चुके हैं और खुद को भूल जाने की वजह से ही बहुत सारी mental और physical बीमारियों ने हमें घेर लिया है!जो हम depression की बात सुनते हैं,anxiety की बात सुनते हैं,insomnia की बात सुनते हैं,इनका root cause जो है वो केवल यह है किहम इतना ज्यादा विचारों में खो चुके हैं,इतनी ज्यादा tension को हमने अपने सिर पर ले लिया है कि control से अब situation बाहर चले गयी है,तो अपने आप सेenjoy करना सीखना है!
मेरा एक friend उस दिन बात कर रहा था कि “मैं चाहता हूँ कि  people should enjoy my company”,तो उनसे  सवाल किया गया कि“do u enjoy your own company?क्या आप खुद अपनी company enjoy करते हैं? क्या आप आधा घंटा या एक घंटा केवल अपने साथ  बैठ सकते हैं? Just alone,without any book,without any movie,without any music?can you stay with yourself just alone?”

दोस्तों!अगर आप ऐसा कर सकते हैं तो आप स्वास्थ्य को हासिल कर सकते हैं!स्वास्थ्य शब्द का मतलब जो हमारी हिंदी में होता है “स्व में स्थित होना,अपने आप में स्थित होना,अपनी ही company enjoy करना!तो दोस्तों स्वस्थ होने के लिए कुछ पल अपने आप के साथ बिताना शुरू करें,बहुत ज्यादा नही केवल आधा घंटा अपने आप को देना शुरू करें!कुछ समय silence में बैठ जाएँ,silence में !अपने विचारों के,जो अपने मन के अंदर विचार चल रहे हैं उनके एक  दृष्टा बनकर,साक्षी बनकर,witness बनकर,यानी अपने अंदर जो विचार चल रहे हैं,उनसे हम छुटकारा पा सकें कुछ समय के लिए और अपने आप के साथ enjoy कर सकें,केवल अपने आप के साथ- चुप  बैठना,मौन हो जाना!हम बाहरी रूप से तो कई बार बोलना बंद कर भी देते हैं लेकिन अंदर हमारे तब भी बोलना ज़ारी रहता है,तो बाहरी रूप से बोलना थोड़ा बंद करना है और खुद के अंदर से भी बोलना बंद करना है!
तो बाहर से तो मौन कर लिया,हमने जुबान बंद कर ली,आँखें बंद कर ली,अपने आप को ही बैठे देख रहे हैं अंदर!हमारे mindकी जो screen है इसपर जो हमारे विचार हैं reflect होते हैं!एक विचार जाता है,कुछ देर के लिए फोटो सामने रहती है,कुछ शब्द सामने आते हैं,हमने किसीको कुछ कहा और थोड़ी देर बाद वो गायब हो जाते हैं!आप एक silent witnessबनकर उन्हें देखते रहें just जैसे आपका इनसे कोई वास्ता नही है,कोई लेना देना नही है,थोड़े ही समय बाद आप देखेंगे कि विचार गायब होने शुरू हो गए हैं और इसी प्रकार एक silent witness बनकर आप कुछ देर देखते रहें तो एक ऐसी अवस्था आती है जिसे कहते हैं “thoughtlessness” यानी बिल्कुल विचारशून्य अवस्था और यह अवस्था इतनी enjoying होती है,इतना इसमें आनंद आता है that the blessings flow in towards you automatically,the entire universe as if pouring inside you.you start enjoying that state,that state is the state of bliss,आनंद  की अवस्था प्राप्त होनी शुरू हो जाती है!
थोड़ा समय लगता है इस चीज़ कीpractice करने में,रोज आधा घंटा,20 मिनट,15 मिनट हम शुरुयात करके देखें!दोस्तों!एक बार आप अपनी company enjoy करना शुरू कर देंगे,यकीन मानें लोग भी आपकी company enjoy करना शुरू कर देंगे,केवल बैठने मात्र से आप कुछ नही भी बोलेंगे,तब भी लोगों को आनंद आएगा,खुशी मिलेगी केवल आपके पास बैठने से!यकीन मानिए दोस्तों उपवास शब्द हम कहते हैं न उपवास रखा है आज मैनें,व्रत रखा है,उप का मतलब नजदीक,और वास का मतलब बैठना,अपने ही नजदीक बैठना,अपने ही आप के पास बैठना और अपने आप से जरुरी इस संसार में तो और कुछ नही है न?आप खुद अपने ही आपको जबenjoy करना शुरू करेंगे तो लोग भी आपके पास बैठना enjoy कर सकेंगे!तो दोस्तों बहुत सारी mental और physical diseases से छुटकारा मिल जाएगा अगर हम अपने आप के पास बैठना शुरू कर दें!देखिये nature भी हमें यही सीखाती है-“silence”!सूरज चमक रहा है,चाँद सितारे चमक रहे हैं,धरती अपने स्थान पर टिकी हुयी है,यह nature ही तो पल पल silent है,सब कुछ करती है लेकिन witness रहती है,just witness!कभी सूरज यह कहकर जतलाता नही कि देखो मैनें तुम्हे heat दी,मैनें तुम्हे energy दी,मैनें तुम्हे रौशनी दी,मेरी वजह से तुम्हारा जीवन है,मैं न होयुं तो तुम मर जायो,यह सूरज कभी नही कहता,the sun never says like this!हम लोग बोलते रहते हैं,देखो मैनें तुम्हारे लिए ऐसा किया,मैनें तुम्हारे लिए वैसा किया,इस तरह से हम जतलाते रहते हैं पर कुदरत कभी नही जतलाती,it just stays silent,nature से हम यही चीज़ adaptकरते हैं,हम भी इसी silence में जाने की कोशिश करते हैं!
देखो रात को हम नींद में क्या करते हैं?नींद भी एक ऐसी अवस्था है  जहाँ पर हम सब कुछ छोड़ देते हैं और silence में उतर जाते हैं!अगर रात को भी आपके दिमाग में बहुत सारे विचार चल रहे हों,कोई tension दिमाग में हो तो आप देखते हैं कि नींद आणि मुश्किल हो जाती है,नींद नही आती!insomnia जैसी जो अवस्था आती है,अनिद्रा की बीमारी जिसे कहते हैं ,रात को नींद न आना,उसका root causeयही है कि इतने ज्यादा विचार चल रहे हैं कि वो नींद के आने में बाधा दाल रहे हैं!ध्यान और नींद में बहुत थोड़ा सा फर्क है!नींद जो है,उसमे अपनीconsciousness को,अपने आपको हम भूल जाते हैं पूरी तरह से और तब कुदरत की ऊर्जा हमारे अंदर उतरनी शुरू होती है लेकिन ध्यान में हमconsciously अपने विचारों के दृष्टा बन जाते हैं,अपने विचारों को शांत करके बैठ जाते हैं और उसके बाद कुदरत की ताकत हमारे अंदर आना शुरू कर देती है!
आप देखिये रात की हमारे 6-8 घंटे की जो नींद है,उसके कारण हमारे दिन के जो 15-16-17 घंटे हम कितना energetic feel करते हैं और बाकी के समय में हम अपनी सांसारिक कार्येवाही कर सकते हैं!इसीप्रकार अगर हम थोड़ा समय अपने आप के साथ enjoy करना मतलब अपने ध्यान में enjoy करना शुरू कर दें जो कि consciously हम बैठें और consciously हम अपने विचारों को शांत कर पाएं तो यह एक ऐसी powerful state होगी जिसको normally आप नींद में आप enjoy करते हो,नींद में आपको जितनी energy मिलती है,इस ध्यान से आपको कई गुना ज्यादा energy प्राप्त होगी और उसके बाद एक बार energyआपको वो मिली then you enjoy talking to everybody,you can distribute this power,this energy!आपके संकल्प में एक शक्ति आणि शुरू हो जाती है,एक power आनी शुरू हो जाती है,the power of silence,मौन कि ताकत,छुपी कि ताकत,यह छुपी आपको बहुत ताकत देती है,बहुत ज्यादा!तो दोस्तों इसके लिए थोड़ी देर चुप रहने की practice करनी है!कभी कभी दिन को भी इस practice को बना के देखिये,जब आपके पास timeहो,सफर कर रहे हैं,जरूरी तो नही हर time सोचते ही रहें,कुछ time thoughtless state को पाने की कोशिश करें  यानी केवल अपने विचारों के साक्षी बन जाएँ,दृष्टा बन जाएँ as if you are not at all related to them,उन विचारों से आपका कोई लेना देना नही है,विचार आ रहे हैं,जा रहे हैं,दूसरा आता है,तीसरा आता है,इस तरह आना जाना लगा रहता है,लेकिन आप केवल उनके दृष्टा बनते हो,देखते रहते हो,उनसे आपका कोई वास्ता नही है!कभी कभी मन किसी विचार को पकड़ने की कोशिश करता है तो आप हलके से उसे झटक देते हो कि I don’t need,I just need to observe,मेरा उससे कोई लेना देना नही है और you come back to yourself!अपने ही स्वांस के आने जाने को हमobserve करते हैं,इस अवस्था को विपश्ना meditation कहते हैं ,बहुत से लोग इसे साक्षी यानी witness meditation भी कहते हैं,बहुत सारे forms हैं लेकिनmain  crux को हमें पकड़ना है,conclusion को पकड़ना है वो है विचारशून्य अवस्था को पाना ,वो आप जैसे भी करके पा सकें that will provide a great amount of energy!
दोस्तों!इसके द्वारा जो संकल्प शक्ति प्राप्त होती है,जो अंदर से ऊर्जा प्राप्त होती है,उसके द्वारा हम संसार के महान से महान कार्य कर सकते हैं तो lets enjoy the power of silence-so be silent!

दोस्तों, आपको ये पोस्ट कैसी लगी, बताना जरुर.
Connect to me by Facebook:

https://www.facebook.com/mindguruindia

Whatsapp : 9958130313 
Gmail : sanjiv.malik1@gmail.com